Viewers : 2598065

मुखिया, प्रखंड प्रमुख समेत सभी पंचायत जन प्रतिनिधि को 31 जनवरी तक देना होगा संपत्ति का ब्यौरा




ग्राम पंचायत के मुखिया, उप मुखिया, प्रखंड प्रमुख - उप प्रमुख, और जिला परिषद् अध्यक्ष - उपाध्यक्ष 31 जनवरी तक अपनी संपत्ति का ब्यौरा अपने जिले में निश्चित रूप से जमा करेंगे. पंचायती राज विभाग के इस प्रस्ताव को सामान्य प्रशाशन विभाग की मंजूरी मिल चुकी है. एक से दो दिन के अंदर सभी जिले के  जिलाधिकारियों को पंचयती राज विभाग निर्देश जारी कर देगा. संपत्ति का ब्यौरा नहीं दे ने वालों पर नियमानुकूल कार्रवाई की जायेगी. सभी प्रतिनिधियों को अपने पति-पत्नी और आश्रित बच्चों की संपत्ति का भी ब्यौरा देना होगा. ३१ दिसंबर को कट ऑफ डेट मानकर सरकार द्वारा बनाये गए फॉर्मेट में जिलाधिकारी को अपनी संपत्ति की जानकारी देनी होगी. 

पंचायत प्रतिनिधियों के विरुद्ध बड़े पैमाने पर राज्य सरकार को मिल रही अनियमितता और भ्रष्टाचार की शिकायतों के बाद राज्य सरकार ने यह निर्णय लिया है. ताकि लोक सेवको की तरह त्रिस्तरीय पंचायत के सभी पद धारकों की संपत्ति का ब्यौरा जनता की जानकारी के लिए जिले की वेबसाइट पर अपलोड किया जा सके. सरकार का यह नियम करीब 18,000  निर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों पर लागु होगा. 




Leave your comment