Viewers : 2679734

बिहार को पुनः ज्ञान और शिक्षा का वैश्विक केंद्र बनाएंगे : राजू दानवीर




जाप के युवा प्रदेश उपाध्यक्ष सह पप्पु ब्रिगेड के प्रदेश अध्यक्ष राजू दानवीर ने कहा की साक्षरता के बिना विकसित समाज और उन्नत प्रदेश की कल्पना कर पाना असम्भव है। आज बिहार की साक्षरता दर 63.82 ℅ है, जो कि राष्ट्रीय स्तर पर बेहद कम है। इसे हम दुर्भाग्य कहें या उनका विश्वासघात, जिस पर हमने भरोसा किया था। हमारा प्रदेश कभी ज्ञान के लिए विश्व का केंद्र हुआ करता था, जिसकी गवाही आज भी नालंदा का इतिहास देती है। मुख्यमंत्री खुद भी उसी क्षेत्र से आते हैं, लेकिन फिर भी उनके कार्यकाल के 15 सालों में यहां की शिक्षा व्यवस्था बदहाल ही नहीं, बदत्तर हो गयी है। सरकार कहती है छात्र-छात्राओं को साइकिल दी, कपड़े दिए, राशन दिया लेकिन क्या गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और बेहतर शैक्षणिक माहौल बिहार के बच्चों को मिल पाया? आज ये सवाल सबसे बड़ा है। आज राज्य में माध्यमिक शिक्षा की हालत किसी से छुपी नहीं और उच्च शिक्षा के लिए कोई अच्छे संस्थान नहीं है। जो हैं उनकी भी हालत अच्छी नहीं है। तो क्या ऐसे में हमारे माननीय मुख्यमंत्री जी ये जनता को बताने की कोशिश करेंगे कि हम विकास की कौन सी सीढ़ी चढ़ रहे हैं? हमारी पार्टी और हमारे आदरणीय अध्यक्ष श्री पप्पू यादव जी ने प्रदेश के विकास की राह में अवरोध पैदा करने वाली इस कमी को प्रमुखता से दूर करने की ठानी और राज्य में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का अलख जगाने का प्रण लिया, जिसमें हम भी उनके साथ हैं। क्या हम और आप मिलकर बिहार की साक्षात्कार दर दूसरे विकसित राज्यों की तरह नहीं कर सकते?  इसके लिए मजबूत इच्छा शक्ति और विजन होना चाहिए, जो जन अधिकार पार्टी के पास है। हमें उम्मीद है कि आप भी बिहार को बदलने और मजबूत करने की मुहिम से जुड़ेंगे और फिर से बिहार को शिक्षा के लिए वैश्विक केंद्र बनाने में अपना योगदान देंगे।



Leave your comment