Viewers : 2630347

बिहार विधानसभा 2020 का बज गया बिगुल , तीन चरणों में होगा इस बार चुनाव




चुनाव आयोग ने बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के लिए तारीखों का ऐलान कर दिया है। प्रदेश में तीन चरणों में वोट डाले जाएंगे।  मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सुनील अरोड़ा ने अन्‍य चुनाव आयुक्‍तों की मौजूदगी में तारीखों का ऐलान किया।  मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि बिहार में चुनाव 3 चरण में होगा। पहला चरण में 28 अक्टूबर को  71 विधानसभा सीटों के लिए कराया जाएगा। वहीं दूसरे चरण में 03 नवंबर को  94 विधानसभा सीटों और तीसरा चरण में  07 नवंबर को 78 विधानसभा सीटों  के लिए मतदान होगा। जिसके बाद 10 नवंबर को मतगणना की जायेगी ।  चुनाव तिथियों का ऐलान होने के साथ ही प्रदेश में आदर्श आचार संहिता भी लागू हो गई है।   

चुनाव आयोग ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया बताया कि इस बार कोरोना संक्रमण को देखते हुए एक बूथ पर सिर्फ 1 हजार मतदाता वोटिंग करेंगे। वोटिंग सुबह 7 बजे से शाम के 6 बजे तक होगी। नामांकन के दौरान दो से अधिक गाड़ियों का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा। वहीं चुनाव प्रचार में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा। कोरोना संक्रमित मरीज आखिरी घंटे में वोट डालेंगे।

- चुनाव प्रचार के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन
- 5 से अधिक लोग घर जाकर प्रचार नहीं करेंगे
- मतदान का समय एक घंटा बढ़ाया गया, सुबह 7 से शाम 6 बजे तक होगी वोटिंग
- नामांकन में दो से अधिक गाड़ियां नहीं होंगी
- कोरोना संक्रमित मरीज आखिरी घंटे में वोटिंग कर सकते हैं
- 1 बूथ पर एक हजार मतदाता वोट डालेंगे 

कोरोना को देखते हुए बिहार विधानसभा चुनाव में विशेष सतर्कता बरती जा रही है। यही कारण है कि बूथों पर बने गोले में ही मतदाताओं को खड़ा होना होगा। यानी कतार लंबी नहीं होगी। डीएम ने इस संबंध में निर्देश जारी कर दिया है। थर्मल स्क्रीनिंग, हाथ सेनेटाइज और ग्लव्स देने के लिए अलग कर्मचारी तैनात रहेंगे। प्रत्येक मतदाता को ग्लव्स लगाकर ही मतदान करना होगा। सभी मतदान केंद्रों के प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैनर की व्यवस्था होगी। मतदान कर्मी अथवा पारा मेडिकल स्टाफ अथवा आशा कार्यकर्ता के माध्यम से मतदान केंद्र के प्रवेश द्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। मतदान के एक दिन पहले सभी मतदान केंद्र को सेनेटाइज किया जाएगा। 

सक्षम प्राधिकार द्वारा तापमान के लिए निर्धारित मानक से अधिक तापमान पाए जाने पर वैसे निर्वाचक के तापमान की दोबारा जांच आधा घंटे के बाद की जाएगी। यदि तापमान निर्धारित मानक से अधिक पाया जाएगा तो उन्हें मतदान के अंतिम घंटे में आने के लिए कहा जाएगा। साथ ही ऐसे मतदाता को टोकन भी निर्गत किया जाएगा। टोकन जारी करने के पूर्व हेल्प डेस्क पर संधारित अल्फाबेटिकल रोल में मतदाता का क्रमांक चिह्नित करने की व्यवस्था की जाएगी एवं टोकन में भी मतदाता क्रमांक का उल्लेख होगा। 

खड़े होने के लिए बनेंगे गोले

सामाजिक दूरी को ध्यान में रखते हुए पंक्ति में खड़े होने के लिए निर्धारित स्थल में गोला बनाया जाएगा। मतदान केंद्र पर तीन पंक्ति क्रमश: पुरुष, महिला एवं दिव्यांग वरिष्ठ नागरिक के लिए बनाया जाएगा। मतदान केंद्र के प्रवेश व निकास द्वार पर हैंड सैनेटाइजर, साबुन एवं पानी की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। 




Leave your comment