Viewers : 2630323

लोकसभा के विधानसभा में भी पप्‍पू पास नहीं हुए , इक्का दुक्का सीट छोड़कर लगभग सभी जाप प्रत्याशियों की जमानते हुई जप्त




बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के नतीजे आ चुके है, जिसमे NDA को पूर्ण बहुमत मिला है. इस बार के विधानसभा के चुनाव में जन अधिकार पार्टी (JAP) के अध्यक्ष और प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन (PDA) की और से सीएम का चेहरा राजेश रंजन यादव उर्फ पप्पू यादव को सिर्फ 26,462 वोट मिले.

मधेपुरा की सीट पर जहां एक तरफ पप्पू यादव को हार का मुंह देखना पड़ा, वहीं उनकी पार्टी को भी बुरी तरह पराजय का सामना करना पड़ा. इस सीट पर आरजेडी के चंद्रशेखर ने जीत दर्ज की है. इससे पहले लोकसभा चुनाव में भी पप्पू यादव को हार का सामना करना पड़ा था. लोकसभा चुनाव में भी पप्पू यादव तीसरे नंबर पर रहे और विधान सभा में भी वह तीसरे नंबर पर ही रहे.

पिछले साल की बाढ़ और कोरोनाकाल में प्रवासी मजदूरों से लेकर हर जरूरतमंद की मदद के लिए दिन रात एक करने वाले पप्पू यादव और उनके नेताओं के लिए यह चुनाव काफी खास था. कई दलों के साथ मिलकर प्रोग्रेसिव डेमोक्रेटिव एलायंस बनाकर उन्होंने इस बार के विधानसभा चुनाव में बाकायदा घोषणा पत्र भी जारी किया था. लेकिन चुनावी नतीजों ने पप्पू यादव को अंत में निराश कर दिया. अपने घोषणा पत्र में पप्पू यादव ने जनता से तीन साल मांगे थे बिहार के विकास के लिए नहीं तो राजनीति से संन्यास लेने की बात कही थी, लेकिन इन सब वादों के बाद भी उनकी पार्टी को एक भी सीट नहीं मिली बल्कि उनके ज्यादातर प्रत्याशियों की जमानतें जप्त हो गयी है. 




Leave your comment