Viewers : 2630330

चार सीट जीतने के बाद भी नीतीश सरकार में मंत्री नहीं बनेंगे जीतन राम मांझी




बिहार के पूर्व सीएम और हिन्दुस्तानी आवम मोर्चा (HAM) के प्रमुख जीतन राम मांझी बिहार की नई सरकार में मंत्री नहीं बनेंगे. मांझी ने बिहार के नए मंत्रिमंडल में कोई भी मंत्री पद ग्रहण करने से इनकार कर दिया है. जीतन राम मांझी ने न्यूज़ 18 से बात कर घोषणा करते हुए कहा कि मैं पहले मुख्यमंत्री का पद संभाल चुका हूं, इसलिए नैतिकता के आधार पर कोई पदग्रहण नही करूंगा.

पार्टी से कितने मंत्री बनेंगे इस सवाल पर मांझी ने कहा कि नीतीश कुमार जैसा फैसला लेंगे वैसा ही होगा. मांझी ने लोक जनशक्ति पार्टी के प्रमुख चिराग पासवान पर तंज कसते हुए कहा कि चिराग ने ऐसा खेल खेला की खुद ही डूब गए. चिराग पासवान बिहार चुनाव से पहले माइलेज लेना चाहते थे, लेकिन बिहार की जनता ने उनको हवा हवाई कर दिया. नीतीश के सीएम फेस पर मांझी ने कहा कि इसको लेकर कोई कन्फ्यूजन नहीं है और नीतीश कुमार ही बिहार के सीएम रहेंगे.

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी भी अगस्त महीने के आखिर में महागठबंधन से अलग हुए थे. जब मांझी एनडीए का हिस्सा बने थे तब वो हम पार्टी से खुद इकलौते विधायक थे. जबकि उनके बेटे संतोष मांझी पार्टी के एमएलसी हैं. लेकिन अब चुनाव नतीजों के बाद उनके पास भी चार सीटें आ चुकी हैं.
बिहार के पूर्व सीएम जीतनराम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा अगर महागठबंधन से अलग न हुई होती तो नतीजे कुछ और हो सकते थे. मौजूदा चुनाव में हम को 4 सीटें मिली हैं. मांझी इससे पहले भी बिहार के सीएम रह चुके हैं. मांझी ने माना कि चिराग फैक्टर के कारण बिहार में एनडीए को 25-30 सीटों का घाटा हुआ है.




Leave your comment