Viewers : 2835073

मार्च में कोरोना महामारी की वापसी से डर, मुंबई और दिल्ली के बाद अब बिहार में भी अलर्ट




पिछले साल मार्च महीने में कोरोना महामारी ने देश के अंदर अपना पांव फैलाया था और अब एक बार फिर इसी मार्च महीने में महामारी ने वापसी के संकेत देकर लोगों को ख़ौफ़ज़दा कर दिया है। मुंबई और दिल्ली के बाद लोगों को बिहार में भी कोरोना की वापसी का डर सताने लगा है। महाराष्ट्र और दिल्ली के आंकड़े जहां लोगों को डरा रहे हैं वहीं बिहार में भी अचानक से कई जिलों में कोरोना वायरस के नए केस मिलने लगे हैं। 

देश की राजधानी दिल्ली में अचानक से कोरोना वायरस के केस काफी ज्यादा बढ़े हैं। दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 400 से ज्यादा नए केस सामने आए हैं। यह बीते 2 महीने में कोरोना के सबसे ज्यादा केस हैं। वही महाराष्ट्र में कोरोना के 14317 नए मरीज मिले हैं जो इस साल में सबसे ज्यादा मरीजों की संख्या है। कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण नागपुर में लॉकडाउन लगाया गया है तो वहीं महाराष्ट्र सरकार ने कई अन्य इलाकों में भी लॉकडाउन लगाने के संकेत दिए हैं। 

हफ्ते भर पहले तक के बिहार के 38 जिलों में से 5 महीनों में ही कोरोना के मरीज मिल रहे थे। लेकिन अब राज्य के 15 जिलों में कोरोना के नए केस सामने आ रहे हैं। गुरुवार को राज्य में 45 नए संक्रमित मिले हैं। आंकड़ों पर नजर डालें तो सोमवार को बिहार में 21 नए मरीज मिले जबकि मंगलवार को 41 और बुधवार को मरीजों की संख्या 44 थी। राज्य में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या घटकर 289 हो गई थी जो अब एक बार फिर बढ़कर 323 हो गई है। पटना में सबसे ज्यादा 157 एक्टिव केस हैं। महाराष्ट्र और दिल्ली के बाद बिहार में एक बार फिर से केस बढ़ने की आशंका जताई जा रही है लिहाजा सतर्कता जरूरी है।


Leave your comment