Viewers : 2835070

10,000 ऑक्सीजन जनरेटर्स, 1 करोड़ मास्क... कोरोना की दूसरी लहर में संयुक्त राष्ट्र से भारत को बड़ी मदद




भारत को कोरोना की दूसरी लहर से निपटने में संयुक्त राष्ट्र संघ से बड़ी मदद मिली है। संयुक्त राष्ट्र की एजेंसियों की ओर से भारत को अब तक 10,000 ऑक्सीजन कन्सनट्रेटर्स और 1 करोड़ मेडिकल मास्क की सप्लाई की गई है। संयुक्त राष्ट्र के चीफ एंटोनियो गुतारेस के प्रवक्ता की ओर से यह जानकारी दी गई है। यूएन चीफ के प्रवक्ता स्टीफाने दुजारिक ने कहा कि भारत में संयुक्त राष्ट्र की टीम लगातार मदद कर रही है। केंद्र सरकार और स्थानीय प्रशासन को लगातार मदद की जा रही है ताकि कोरोना संक्रमण के मामलों का मुकाबला किया जा सके।

यूएन चीफ के प्रवक्ता ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन और यूएन पॉप्युलेशन फंड की ओर से भारत को अब तक 10,000 ऑक्सीजन कन्सनट्रेटर्स की सप्लाई की गई है। इसके अलावा करीब 1 करोड़ मेडिकल मास्क और 15 लाख फेस शील्ड भी भेज गए हैं। संयुक्त राष्ट्र की टीम ने भारत की मदद के लिए वेंटिलेटर्स और ऑक्सीजन जनरेटिंग प्लांट्स की भी खरीद की है। इसके अलावा यूनिसेफ की ओर से भी कोरोना से निपटने के लिए जरूरी उपकरणों की सप्लाई भारत को की जा रही है। उन्होंने कहा कि हमारी टीम ने बड़ी संख्या में टेस्टिंग मशीनों और किट्स की भी खरीद की है। इसके अलावा एयरपोर्ट थर्मल स्कैनर भी खरीदे गए हैं। 

संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की ओर से अस्थायी हेल्थ फैसिलिटीज के लिए टेंट और बेड भी मुहैया कराए जा रहे हैं। इसके अलावा एजेंसी ने हजारों पब्लिक हेल्थ स्पेशलिस्ट भी तैनात किए हैं ताकि कोरोना संक्रमण से निपटा जा सके। यही नहीं यूनिसेफ और यूएन डिवेलपमेंट प्रोग्राम की ओर से भारत में 1,75,000 वैक्सीन सेंटर्स की मॉनिटरिंग में भी मदद की जा रही है। यूनिसेफ के एग्जीक्युटिव डायरेक्टर हेनरिएटा फोरे ने इससे पहले कहा था कि भारत में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण ने हम सभी की चिंताएं बढ़ा दी हैं। उन्होंने कहा था कि इस दौर में पूरी दुनिया को आगे आकर भारत की मदद करनी चाहिए ताकि अन्य देशों में यह न फैले। 
 






Leave your comment