Viewers : 2835080

कुछ घंटों में तट से टकराएगा यास चक्रवात , लैंडफॉल से पहले ही दिखा असर, ओडिशा-बंगाल में तेज हवाओं संग बारिश






पश्चिम बंगाल और ओडिशा में यास तूफान का खतरा मंडरा रहा है। बंगाल और ओडिशा के तटीय इलाकों में आज यास तूफान की तबाही देखने को मिल सकती है। चक्रवाती तूफान ‘यास’ बुधवार दोपहर तक ओडिशा के भद्रक जिले के धमरा बंदरगाह के पास दस्तक दे सकता है। ओडिशा और पश्चिम बंगाल में यास तूफान की वजह से कई राज्यों में अलर्ट जारी किया गया है। फिलहाल, अगले कुछ घंटे काफी अहम होने वाले हैं। मंगलवार की शाम को यास भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील हो गया। इसके चलते पश्चिम बंगाल और ओडिशा सरकार ने सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जोखिम वाले क्षेत्रों से 12 लाख से अधिक लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है। यास तूफान की वजह से बंगाल, ओडिशा और बिहार समेत झारखंड के मौसम पर भी असर पड़ा है। ओडिशा और बंगाल में कई जगहों पर लगतार बारिश हो रही है।

लैंडफॉल से पहले ही दिखने लगा यास का असर

बंगाल में चक्रवाती तूफान यास के लैंडफॉल से पहले ही असर दिखने लगा है। न सिर्फ समुद्र में हलचल देखने को मिल रही है, बल्कि तेज हवाओं के साथ बारिश भी हो रही है। चक्रवाती तूफान 'यास' के लैंडफाल से पहले पश्चिम बंगाल के पूर्वी मिदनापुर जिले के दीघा में समंदर में ऊंची-ऊंची लहरें उठ रही है। पश्चिम बंगाल में जैसे ही Cyclone Yaas लैंडफॉल के करीब पहुंचा, पूर्व मेदिनीपुर जिले के दीघा में समुद्र उबड़-खाबड़ हो गया और फिलहाल भारी बारिश हो रही है।

यास तूफान की क्या रहेगी रफ्तार

मौसम विभाग की मानें तो चक्रवात 'यास' आज दोपहर तक उत्तर ओडिशा तट के निकट उत्तरी धामरा और बालासोर के दक्षिण के पास पहुंचेगा। इस दौरान 'यास' बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान के रूप में होगा और हवा की स्पीड 130-140 किमी प्रति घंटे रहने की संभावना है।


Leave your comment