Viewers : 2866179

जानिये सीबीआई के नए निदेशक सुबोध जायसवाल के बारे में




सीबीआई के नए निदेशक बने आईपीएस सुबोध कुमार जायसवाल की प्रारंभिक शिक्षा-दीक्षा धनबाद में हुई है।  साल 1978 में उन्होंने डिनोबली डिगवाडीह से बोर्ड की परीक्षा पास की थी। उन दिनों वे अपने परिवार वालों के साथ सिंदरी रोड पाथरडीह में रहते थे। 1962 में उनका जन्म धनबाद जिले में हुआ था।

1985 बैच के आईपीएस सुबोध जायसवाल ने महज 23 वर्ष की आयु में यूपीएससी की परीक्षा पास की थी। उनके जानने वालों का कहना है कि वे बचपन से ही सेना में अफसर बनना चाहते थे। उन्होंने 12वीं के बाद तीन बार नेशनल डिफेंस एकेडमी (एनडीए) की भी परीक्षा दी, लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली।

कला संकाय से ग्रेजुएशन करने के बाद उन्होंने एमबीए किया और पहले ही प्रयास में यूपीएससी की परीक्षा क्रैक कर ली। तेजतर्रार और बेदाग छवि वाले सुबोध रॉ और एसपीजी जैसी सुरक्षा एजेंसियों में महत्वपूर्ण पदों पर भी आसीन रहे हैं। सुबोध को सीबीआई प्रमुख की जिम्मेवारी मिलने से धनबाद ही नहीं पूरा झारखंड गौरवान्वित  हुआ है।

सीबीआई को मंगलवार देर रात अपना नया बॉस सुबोध कुमार जायसवाल के रूप में मिला। उनका कार्यकाल दो साल का होगा। जायसवाल 1985 बैच के भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के अधिकारी हैं और वह पूर्व में महाराष्ट्र के पुलिस महानिदेशक पद पर रहे हैं। सीबीआई में डायरेक्टर बनने से पहले वह केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के महानिदेशक थे।

कैबिनेट की नियुक्ति समिति (एसीसी) की ओर से जारी आदेश के मुताबिक, जायसवाल सीबीआई की कमान संभालेंगे। यह पद फरवरी के पहले सप्ताह से तब से खाली पड़ा है, जब ऋषि कुमार शुक्ला ने अपना कार्यकाल पूरा किया था। उसके बाद से अपर निदेशक प्रवीण सिन्हा अंतरिम प्रमुख के रूप में प्रमुख जांच एजेंसी के मामलों को देख रहे हैं।






Leave your comment